Subscribe:

Ads 468x60px

गुरुवार, 8 जून 2017

विश्व महासागर दिवस और ब्लॉग बुलेटिन

नमस्कार मित्रो,
आज विश्व महासागर दिवस है. इसे प्रतिवर्ष 8 जून को मनाया जाता है. समुद्र की महत्त्वपूर्ण भूमिका के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए इस दिवस की शुरुआत वर्ष 1992 में की गई थी. सन 1992 में रियो डी जनेरियो में हुए पृथ्वी ग्रह नामक फोरम में प्रतिवर्ष विश्व महासागर दिवस मनाने और सन 2008 में संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा इस संबंध में आधि‍कारिक मान्यता दिए जाने के बाद से यह दिवस मनाया जाने लगा है. इसको मनाने का प्रमुख कारण विश्व में महासागरों के महत्व और उनकी वजह से आने वाली चुनौतियों के बारे में विश्व में जागरूकता पैदा करना है. इसके अलावा महासागर से जुड़े पहलुओं जैसे- खाद्य सुरक्षा, जैव-विविधता, पारिस्थितिक संतुलन, सामुद्रिक संसाधनों के अंधाधुंध उपयोग, जलवायु परिवर्तन आदि पर भी समझ विकसित करना है. पहला विश्व महासागर दिवस 8 जून 2009 को मनाया गया था.  


महासागर हमारी पृथ्वी पर न सिर्फ जीवन का प्रतीक है बल्कि पर्यावरण संतुलन में भी प्रमुख भूमिका अदा करता है. पृथ्वी पर जीवन का आरंभ महासागरों से माना जाता है. ऐसा माना जाता है कि महासागरीय जल में ही पहली बार जीवन का अंकुर फूटा था. विश्व महासागर दिवस World Oceans Day पर और विस्तार से जानने के लिए यहाँ क्लिक करें.

इस अपेक्षा के साथ कि हम प्रकृति के उपहारों का महत्त्व समझते हुए उनके प्रति सकारात्मक भाव अपनाएंगे, आज की बुलेटिन प्रस्तुत है.

++++++++++














9 टिप्पणियाँ:

yashoda Agrawal ने कहा…

शुभ संध्या राजा साहेब
अच्छी रचनाए
विश्व समुद्र दिवस पर विशेष जानकारियाँ मिली
साधुवाद
सादर

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

बढ़िया प्रस्तुति।

Digvijay Agrawal ने कहा…

Good Morning Raja sahib
Thanks
Regards

Digvijay Agrawal ने कहा…

Good Morning Raja sahib
Thanks
Regards

Kavita Rawat ने कहा…

बहुत सुन्दर बुलेटिन प्रस्तुति

shashi purwar ने कहा…

bahut sundar charcha hamen shamil karne hetu abhar .

Mangala ने कहा…

Sabhar namaskar.Aapke lekhan pratbha v sadhana ka hum sadaiv anusarn karate hain.Subh kamanayen.

Mangala ने कहा…

Sabhar namaskar.Aapke lekhan pratbha v sadhana ka hum sadaiv anusarn karate hain.Subh kamanayen.

sanjeev shukla ने कहा…

बहुत सुंदर डॉ0 साहब ..शानदार बुलेटिन ।।
हार्दिक शुभकामनाएं।
---- संजीव शुक्ल'अतुल'

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार