Subscribe:

Ads 468x60px

रविवार, 15 अक्तूबर 2017

८६ वीं जयंती पर डॉ॰ कलाम साहब को ब्लॉग बुलेटिन का सलाम

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |
"मेरा संदेश, विशेष रूप से युवाओं के लिए, है कि वे अलग सोचने का साहस रखें, आविष्कार करने का साहस रखें, अनदेखे रास्तों पर चलने का साहस रखें, असंभव को खोजने और समस्याओं पर जीत हासिल करके सफल होने का साहस रखें। ये महान गुण हैं जिनके लिए उन्हें ज़रूर काम करना चाहिए। युवाओं के लिए ये मेरा सन्देश है।"
- डॉ॰ ए॰ पी॰ जे॰ अब्दुल कलाम
 ब्लॉग बुलेटिन टीम और हिन्दी ब्लॉग जगत की ओर से आज पूर्व राष्ट्रपति डॉक्टर ए पी जे अब्दुल कलाम साहब को उनकी ८६ वीं जयंती पर हम सब शत शत नमन करते हैं|
सादर आपका
 
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

झटपट खजूर - नट बम.

शिकारी माता देवी मन्दिर यात्रा

अपना घर

बारात में चलाये जाने वाले पटाखे क्यूँ नहीं नुकसान पहुँचाते?

अधिरचना की प्रणाली में राज्य - १

दर-ब-दर

कंचनगढ़ की गुफा

लाहुल स्पीती यात्रा वृत्तांत -- 6 (रोहतांग पास, मनाली )

रघुपति भगति सजीवनि मूरी

बादलों की ओट धरकर सूर्य ने ले ली जल-समाधि...

पूर्व राष्ट्रपति डॉक्टर ए पी जे अब्दुल कलाम साहब की ८६ वीं जयंती

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
अब आज्ञा दीजिये ...

जय हिन्द !!!

3 टिप्पणियाँ:

SANDEEP PANWAR ने कहा…

शानदार संकलन

Kavita Rawat ने कहा…

बहुत अच्छी बुलेटिन प्रस्तुति

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार